Sarpatta Parambarai: Wonderful depiction of Bahujan culture

सरपट्टा परमबराई: बहुजन संस्कृति का अद्भुत चित्रण

Authors

  • Neeraj Bunkar PhD Scholar, Nottingham Trent University, UK

DOI:

https://doi.org/10.31305/rrijm.2023.v08.n02.007

Keywords:

anti-caste cinema, Bahujan Samaj, political aspect, culture

Abstract

Sarpatta Parambarai not only brings to the fore the problems associated with the underprivileged society but also presents a strong resistance scenario, which makes it different from other films. Also, it seems to represent the emerging anti-caste cinema, in which the image of Bahujan heroes like Dr. Ambedkar, Periyar, Phule, Kabir emerges in the film in different ways. In this article, I have talked about many aspects of the film, whether it is the political aspect or the culture of sharing of Bahujan Samaj or the influence of the thoughts and principles of Tathagata Gautam Buddha and Baba Saheb. Get. The influence of Ranjith's ideology is clearly visible on the film, which in itself is a definitive work in the field of cinema.

Abstract in Hindi Language:

सरपट्टा परमबराई न केवल वंचित समाज से जुडी दिक्कतों को सामने सामने लाती है बल्कि एक मजबूत प्रतिरोध का परिदृश्य भी पेश करती है जो की इसे बाकि फिल्मों से अलग पहचान दिलाता है |  साथ ही ये उभरते हुए जाती-विरोधी सिनेमा का प्रतिनिधित्व करती हुयी नजर आती है जिसमे डॉ अंबेडकर, पेरियार, फुले, कबीर जैसे बहुजन नायकों का प्रतिबिम्ब अलग-अलग तरीको से फिल्म में उभरकर सामने आता है | इस लेख में मैंने फिल्म के कई पहलुवों पर बात कि है चाहे वो राजनितिक पहलू हो या बहुजन समाज की साझेपन की संस्कृति हो या तथागत गौतम बुद्ध और बाबा साहेब के विचोरों एवं सिद्धांतों का प्रभाव हो | पा. रंजीत की वैचारिकी का प्रभाव फिल्म पर साफ़ दिखाई देता है जो कि अपने आप में सिनेमा के क्षेत्र में एक निश्चयात्मक कार्य है |

 Keywords: जाति-विरोधी सिनेमा, बहुजन समाज, राजनितिक पहलू, संस्कृति

Author Biography

Neeraj Bunkar, PhD Scholar, Nottingham Trent University, UK

Neeraj Bunkar, PhD Scholar at the Department of English, Linguistics, and Philosophy at Nottingham Trent University, Nottingham, United Kingdom with a specific interest in Caste, Dalit, Rajasthani folklore, Oral History and Cinema. He is researching Rajasthan Based Hindi cinema from the Dalit standpoint. His write-up in the category of PostScript: ‘Spring Thunder: Adivasi Resistance for ‘Jal, Jangal, Jameen’’ has been published in the Economic and Political Weekly Journal (2022). He regularly contributes to platforms such as Forward Press, RoundTable India, and Twocircle.net

References

सुजाता (20 मार्च 1959): निर्देशक- बिमल रॉय, अछूत कन्या (1936): निर्देशक- फ्रांज ओस्टेन कबाली (22 जुलाई 2016) , काला (07 जून 2018): निर्देशक- पा. रंजीत, पेरियुम पेरुलुम (28 सितम्बर 2018) , कर्णनन(09 अप्रैल 2021): निर्देशक- मारी सेल्वराज, असुरन (04 अक्टूबर 2019): निर्देशक- वेट्रीमारन, मंडेला(04 अप्रैल 2021): निर्देशक- मैडोन अश्विन, मराठी फिल्म फैन्ड्री (14 फरवरी 2014), सैराट(29 अप्रैल 2016):निर्देशक- नागराज मंजुले |

आरक्षण (12 अगस्त 2011), राजनीती (04 June 2010), परीक्षा (06 अगस्त 2020): निर्देशक- प्रकाश झा, लगान (15 जून 2001): निर्देशक- आशुतोष गोवारिकर, गुडू रंगीला(3 July 2015): निर्देशक- सुभाष कपूर आक्रोश(1980): निर्देशक- गोविंद निहलानी, मांझी- दी माउंटेन मेन(21 अगस्त 2015): निर्देशक- केतन मेहता, पीपली लाइव(13 अगस्त 2010): निर्देशक- अनुषा रिज़विक, मुक्काबाज़(12 जनवरी 2018): निर्देशक- अनुराग कश्यप, आर्टिकल -15(28 जून 2019): निर्देशक- अनुभव सिन्हा, सीरियस मेन(02 अक्टूबर 2020): निर्देशक- सुधीर मिश्रा, धड़क (20 जुलाई 2018): निर्देशक- शशांक खेतान, मसान (24 जुलाई 2015): निर्देशक-नीरज घयवान् |

भीमराव अम्बेडकर: डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर: लेखन और भाषण,(सं. वसंत मून) शिक्षा विभाग महाराष्ट्र सरकार, नई दिल्ली, 1979, पृ. 326-329.

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम, विकिपीडिया

https://www.google.com/url?sa=t&rct=j&q=&esrc=s&source=web&cd=&ved=2ahUKEwjbnsmp_M_3AhUOecAKHYqjA4AQFnoECAQQAQ&url=https%3A%2F%2Fen.wikipedia.org%2Fwiki%2FDravida_Munnetra_Kazhagam&usg=AOvVaw3kaaB MilLY87 ysYonDgd8-

प्रीथिश राजा, शोधार्थी, टाटा सामाजिक विज्ञान संस्थान, मुंबई, फेसबुक पोस्ट (28 जुलाई 2021) https://www.facebook.com/preethish.raja (अंग्रेजी से अनुवाद)

कुफिर येल्दामोस्तव, हैदराबाद, फेसबुक पोस्ट (28 जुलाई 2021) https://www.facebook.com/Pa-Ranjith-Fans-Club-Kerala-309900896160722/ (अंग्रेजी से अनुवाद)

Downloads

Published

15-02-2023

How to Cite

Bunkar, N. (2023). Sarpatta Parambarai: Wonderful depiction of Bahujan culture: सरपट्टा परमबराई: बहुजन संस्कृति का अद्भुत चित्रण. RESEARCH REVIEW International Journal of Multidisciplinary, 8(2), 36–40. https://doi.org/10.31305/rrijm.2023.v08.n02.007